loading...

Saturday, March 16, 2019

पुलवामा हमले पर जश्न मनाने वाले AMU के कट्टरपंथी आज न्यूजीलैंड हमले पर निकाल रहे हैं कैंडल मार्च, कट्टरपंथियों का दोहरा चरित्र आया सामने

हजारों किलोमीटर दूर न्यूजीलैंड में कोई घटना होती है तो AMU वाले अपनी संवेदना लेकर निकल पड़ते है, पर अपने ही देश में हमला होता है तब इनके कैंडल बाहर नहीं निकलते बल्कि इनके यहाँ के कट्टरपंथी जश्न मनाते है

अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के कट्टरपंथियों का दोगलापन एक बार फिर सामने आया है, इन कट्टरपंथियों की नयी हरकत को देखकर लोग हैरान है

https://twitter.com/ANINewsUP/status/1106722428468682752?s=19

AMU में तब जश्न मनाया गया था जब पुलवामा में भारत के 44 CRPF जवान बलिदानी हुए थे, AMU के कई कट्टरपंथी छात्रों ने सोशल मीडिया पर ख़ुशी जाहिर की थी
अभी न्यू जीलैंड में क्राइस्ट चर्च की मस्जिद पर एक शूटर ने तबाही मचा दी तो AMU वाले कैंडल लेकर निकल पड़े, पुलवामा के बाद भी ये लोग कैंडल लेकर नहीं निकले थे


ये लोग कभी कैंडल लेकर नहीं निकले जब पुलवामा हुआ, जब यजिदियों का नरसंहार हुआ, जब अमरनाथ यात्रियों पर हमले हुए, जब देश भर में आतंकी वारदात हुई
अब न्यू जीलैंड जो की भारत से काफी दूर है वहां के लिए भी इनकी संवेदना जाग रही है, पर पुलवामा के लिए नहीं जागी थी, AMU के कट्टरपंथियों का दोगला चरित्र फिर सामने है
loading...