loading...

Monday, February 18, 2019

पुलवामा हमले का मास्टर माइंड गाजी उर्फ कामरान समेत 3 आतंकी सेना के इनकाउंटर में ढेर, सर्च अभियान जारी


पुलवामा के दक्षिण कश्मीर में एक मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के 3 आतंकवादी मारे गए है, इनमें से एक जैश-ए-मोहम्मद का चीफ ऑपरेशन कमांडर और जेएम संस्थापक मसूद अजहर का शीर्ष सहयोगी गाजी भी है।

कामरान उर्फ गाजी एक पाकिस्तानी नागरिक था, जो घाटी में चल रही आतंकी घटनाओं का नेतृत्व कर रहा था।

दूसरे आतंकवादी को ऑपरेशन में बेअसर कर दिया गया, उसकी पहचान हिलाल के रूप में की गई।

मारे गये आतंकवादी पुलवामा के अवंतीपोरा में सीआरपीएफ पर हुये हमले से जुड़े थे।

सूत्रों के मुताबिक, भारतीय सेना, जम्मू-कश्मीर पुलिस, SOG CRPF ने पिंगलीना में संयुक्त अभियान चलाया। सूत्रों ने बताया कि सेना के एक मेजर और चार जवान भी ऑपरेशन में शहीद हो गए।

ऑपरेशन के दौरान एक नागरिक भी मारा गया। वह उस घर का मालिक था जहां आतंकवादी छिपे हुए थे। संभावना जताई जा रही है कि आतंकियों ने उसे मानव ढाल के रूप में प्रयोग किया हो।

सोमवार को दोपहर एक बजे शुरू हुई मुठभेड़ दक्षिण कश्मीर में 10 घंटे तक चली। यह CRPF 76 बटालियन के कैम्प से मुश्किल से 15 किमी की दूरी पर था।

सैनिकों ने एक एके -47 राइफल और एक पिस्तौल बरामद की है। सर्च ऑपरेशन अभी भी जारी है।

NSA अजीत डोभाल और गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मुठभेड़ से पीएम नरेंद्र मोदी को अवगत कराया।

14 फरवरी को पुलवामा के अवंतीपोरा इलाके में जेएम द्वारा किए गए सबसे घातक आतंकी हमले में 40 सीआरपीएफ जवान मारे गए थे।  CRPF के काफिले में विस्फोटकों से लदी एक गाड़ी द्वारा विस्फोट कर इस हमले को अंजाम दिया गया था ।

इस घातक आतंकी हमले के मद्देनजर दुनिया भर के कई देश भारत के समर्थन में खड़े थे।

पुलवामा आतंकी हमले के बाद, भारत ने मोस्ट फेवर्ड नेशन (एमएफएन) का दर्जा भी रद्द कर दिया, जो 20 साल पहले लिया गया एकतरफा फैसला था। भारत सरकार ने भी वैश्विक मंच पर पाकिस्तान को अलग-थलग करने का संकल्प लिया।
loading...